1. Home
  2. Trending News

लव-लैंग्वेज बताती है रिश्ते की मजबूती: जाने बिना इजहार किए, कैसे मिलती है मोहब्बत की गारंटी?

Love language:

Love language: शब्दों और नजरों के अलावा बॉडी लैंग्वेज के जरिए प्यार कैसे जाहिर होता है। लड़की अगर प्यार में हो तो वह किस तरह अपनी बॉडी लैंग्वेज और व्यवहार से इसे जाहिर करती है। कुल मिलाकर वह बातें जो इस बात का संकेत हो सकती हैं कि शायद लड़की को आपसे प्यार हो गया है।

नेपथ्य से नहीं आता प्यार, पहले दोस्ती है जरूरी

बचपन की सुनी कहानियों में एक राजकुमारी हुआ करती थी, जिसके लिए घोड़े पर सवार एक राजकुमार आता था। दोनों पहली बार मिलते और हमेशा के लिए एक हो जाते। यहीं पर किस्से की हैप्पी एंडिंग हो जाती थी। मानो किस्मत ने सारी प्लॉटिंग पहले से ही कर रखी हो। लेकिन हकीकत इससे काफी जुदा होती है। यथार्थवादी दुनिया में प्यार का बीज धीरे-धीरे पनपता है। यहां प्यार अचानक नेपथ्य से प्रकट नहीं होता।

Love language:

इसलिए स्टोरी में आगे बढ़ने से पहले इस वैधानिक चेतावनी पर ध्यान दें कि-

यहां लड़कियों की जिस लव लैंग्वेज की बात की जा रही है, वह पहले से दोस्त और परिचत लड़की पर ही लागू हो सकती है। मुहल्ले की लड़की, सामने वाली बिल्डिंग में रहने वाली लड़की, पड़ोसी लड़की पर इस लव लैंग्वेज के ज्ञान को अप्लाय करने की कोशिश न करें। दो लोगों में पहले से फ्रेंडशिप हो, बातचीत हो और फिर धीरे-धीरे फिजिकल टच, तारीफ, क्वालिटी टाइम और तोहफों की बाढ़ आ जाए तो यह दोस्ती के प्यार में बदलने की निशानी हो सकती है। लेकिन ऑफिस में HR की तरफ से मिले गिफ्ट को प्रेम-प्रस्ताव समझना गुनाह-ए-अजीम से कम नहीं होगा। इसी तरह मॉल में अतिशय मुस्कुराती लड़की जरूरी नहीं कि प्यार का प्रस्ताव दे रही हो। यह भी संभव है कि वह कोई प्रोडक्ट बेचने की कोशिश कर रही हो और उसे इस प्रोफेशनल मुस्कानके लिए ट्रेनिंग दी गई हो।

Love language:

द फाइव लव लैंग्वेज

रिलेशनशिप काउंसिलर गैरी चैपमैन की एक किताब है, ‘द फाइव लव लैंग्वेज।इस किताब में वह लिखते हैं कि प्यार की सबसे पहली पहचान यह होती है कि जिसे आपसे प्यार है, उसके जीवन में आपका महत्व बड़ा हो जाए। वह अपनी सबसे कीमती चीजें जैसेकि वक्त, ध्यान, अटेंशन और ऊर्जा आप पर खर्च करने लगे। अपना वक्त और ऊर्जा खर्च करके आपके लिए चीजें करे, आपके साथ होना पसंद करे और आप पर ध्यान दे।

किसी को आपसे प्यार है, इसका एहसास तब होता है, जब आप अचानक खुद को केंद्र में महसूस करने लगते हैं। आप पर ध्यान दिया जा रहा है, आपको महत्व दिया जा रहा है।

इन बातों से पता चलेगा कि लड़की संग दोस्ती प्यार में बदल रही है

जब फीमेल फ्रेंड आपकी जिंदगी से जुड़ी छोटी-छोटी बातें भी याद रखने लगे, खुलकर इंटरेस्ट दिखाए। आपके बारे में सबकुछ जान लेने की इच्छा जाहिर करे। बात करते हुए आंखों में आंखें डालकर बात करे और इस दौरान झिझक महसूस न करे। आपको अपने सोशल सर्किल और फैमिली में इंक्लूड करने लगे। बात करते हुए एकटक देखे और खूब ध्यान से बातें सुने। जोक्स पर दिल खोलकर हंसे, उसमें अपनी भी बातें जोड़े। साथ में किसी भी तरह का प्लान बनाने को लेकर ज्यादा उत्साह दिखाए। आपके काम, सपने और लक्ष्य के बारे में बात करने लगे। कुछ गलत होने पर चिंता जाहिर करे। साथ होने पर बिना बातचीत भी कंफर्टेबल महसूस करे और आपके बीच औपचारिकताएं खत्म होने लगें।आपकी राय-मशविरे पर खूब ध्यान देने लगे। अपने सीक्रेट्स बताने लगे। बातचीत के दौरान रोने या खुद को कमजोर दिखाने से परहेज न करे।

Love language:

ऐसी बातें बढ़ने लगें, जिसे सिर्फ आप दोनों जानते हों। कपड़ों और मेकअप के बारे में आपकी राय को तवज्जो मिले। आपकी पसंद-नापसंद का ख्याल रखा जाने लगे। अचानक से पूर्व रिश्तों की चर्चा बंद हो जाए। दूसरे मेल फ्रेंड्स के मुकाबले आपको ज्यादा महत्व मिलने लगे। रिश्ते को लेकर थोड़ी पजेसिव हो जाए।

Love language:

महिलाएं अपने पसंदीदा पुरुष के साथ यूं ही मुस्कुराती हैं

प्रकृति ने महिलाओं और पुरुषों में गैर-बराबरी नहीं की, लेकिन हमारी सोसाइटी ने यह काम बखूबी किया है। शायद इसी का नतीजा है कि लड़कियों को कब, कहां, कैसे और क्या करना चाहिए, इसकी एक पूरी मौखिक संहिता मौजूद है। इससे थोड़ा भी भटकाव हुआ नहीं कि बदचलनका टैग लग जाता है।

Around The Web

Trending News

Latest News

You May Also Like