1. Home
  2. Haryana News

रेवाड़ी में मिसाल बना टैक्सी ड्राइवर की बेटा: बिना कोचिंग पास की UPSC की परीक्षा

SHIVAM

Upsc shivam: रेवाड़ी शहर में टैक्सी चलाने वाले के बेटे ने मिसाल कयाम की है। टैक्सी ड्राइवर हरदयाल के बेटे शिवम ने UPSC एग्जाम को क्रैक करते हुए 457वीं रैंक हासिल की है। उनका चयन इंडियन पुलिस सर्विस (IPS) में हुआ है। शिवम ने अपने दूसरे प्रयास में ये परीक्षा पास की है। पेशे से IIT सिविल इंजीनियर शिवम ने बगैर कोचिंग के ही सबसे मुश्किल कही जाने वाली इस परीक्षा को पास किया है। शिवम का परिवार मूल रूप से रेवाड़ी के गांव नांगल मूंदी का रहने वाला है और अभी फिलहाल वे शहर के गुलाबी बाग में रहते हैं।

नवोदय स्कूल में 12वीं तक की पढ़ाई की

शिवम ने बताया कि जवाहर नवोदय स्कूल नैहचाना से 12वीं तक की पढ़ाई पूरी करने के बाद IIT की तैयारी शुरू की थी। इसके बाद IIT की संयुक्त प्रवेश परीक्षा में भी सफलता प्राप्त कर IIT गुवाहाटी से बीटेक की पढ़ाई पूरी की। वर्तमान में वह दिल्ली में रहकर UPSC की तैयारी कर रहे थे।

दो बहनों के इकलौते भाई है शिवम

दो बहनों के इकलौते भाई शिवम की बड़ी बहन पूजा यादव की शादी हो चुकी है, जबकि दूसरी बहन संजू राव असम के केंद्रीय स्कूल में फिजिक्स विषय में प्रवक्ता के पद पर कार्यरत हैं।

मां से मिली प्रेरणा

शिवम की मां कमलेश देवी स्नातकोत्तर तक पढ़ी हैं। पिता हरदयाल का कहना है कि भले वह दसवीं कक्षा तक भी नहीं पढे़ हैं, लेकिन शिक्षा का महत्व उन्हें पता है। इसलिए बच्चों को अच्छी शिक्षा देकर उन्हें आदर्श नागरिक बनाने का सपना देखा था, जो अब पूरा होने लगा है। कमलेश देवी घर पर बच्चों को ट्यूशन पढ़ाती हैं। शिवम का कहना है कि जब लक्ष्य निर्धारण होता है तो मेहनत करने का मन करता है। समय प्रबंधन, लगातार मेहनत करना, आवश्यकता अनुसार इंटरनेट मीडिया का सदुपयोग करते हुए 10 से 12 घंटे की पढ़ाई करते थे।

Around The Web

Trending News

Latest News

You May Also Like