1. Home
  2. Haryana News

पलवल: महंत पर 2 साल तक शारीरिक शोषण और ब्लैकमेलिंग का आरोप, जांच में जुटी पुलिस

mahant

Palwal rape: पलवल में एक महंत पर युवती के साथ रेप करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि घरेलू परेशानी को लेकर युवती शनि धाम गई थी जहां पर महंत ने दुष्कर्म किया।

2 साल तक किया शारीरिक शोषण

युवती का आरोप है कि महंत ने नशीला प्रसाद खिलाकर उसे बेहोश कर दिया और फिर गाड़ी में उसका रेप कर अश्लील वीडियो बना कर ब्लैकमेल किया। वह 2 वर्ष तक उसका शारीरिक शोषण करता रहा। अब बहीन थाना पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर केस दर्ज किया है। आरोपी महंत अपने आप को कोकिला वन धाम कोसी कलां उत्तर प्रदेश का संत बताता है। इसलिए, पुलिस 2 माह बाद भी उसे गिरफ्तार नहीं किया है। DSP का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद आरोपी महंत को गिरफ्तार किया जाएगा।

mahant

कोकिला वन स्थित शनि धाम में मुलाकात

बहीन थाना पुलिस के अनुसार, दिल्ली की रहने वाली युवती ने कोर्ट में दायर याचिका में कहा है कि वह घरेलू तौर से परेशान थी। इसलिए, वह कोकिला वन स्थित शनि धाम दर्शन के लिए पहुंची। शनि धाम पर उसकी मुलाकात जानकीदास चेला नामक संत से हुई। उसने अपने आप को शनि देव मंदिर का महंत बताया। उसने सांत्वना दिया कि भगवान की भक्ति में आस्था रखने से सब दुख दूर हो जाते हैं।

माता के दर्शन के बहाने ले गया

आरोप है कि 18 जून 2021 को जानकीदास अपनी फॉर्च्यूनर कार में ड्राइवर संजू के साथ बहीन गांव स्थित माता के दर्शन कराने की बात कहकर अपने साथ ले गया। जब गाड़ी होडल-नूंह रोड पर पहुंची तो ड्राइवर ने गाड़ी को लोहिना गांव की तरफ मोड़ दिया। युवती के पूछने पर महंत ने कहा कि बहीन गांव का रास्ता यही है।

mahant

नशीला प्रसाद खिलाया

कुछ आगे चलते ही महंत जानकीदास ने उसे खाने के लिए प्रसाद के रूप में मिठाई दी। उसके खाते ही वह बेहोश हो गई। जब उसे होश आया तो उसके और महंत के शरीर पर कपड़े नहीं थे। महंत ने उसके साथ सड़क किनारे गाड़ी खड़ी कर दुष्कर्म किया और उसकी अश्लील फोटो व वीडियो बना ली। युवती का कहना है कि उसने विरोध किया तो महंत और उसके ड्राइवर ने हथियार निकाल कर उसे जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद उसे होडल हाईवे पर गाड़ी से उतार कर फरार हो गए। डर के कारण इस बारे में वह किसी को नहीं बता सकी।

Around The Web

Trending News

Latest News

You May Also Like