1. Home
  2. Haryana News

मॉडल मर्डर केस खुलासा: समलैंगिक थी दिव्या पाहुजा, 30 लाख रुपए मांगे तो मारी गोली

divya pahuja

Model murder case: हरियाणा में मॉडल के मर्डर केस मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है। मॉडल के हत्यारे और होटल मालिक का कहना है कि दिव्या पाहुजा समलैंगिक थी।​​divya pahuja

30 लाख रुपए देने का बना रही थी दबाव

गुरुग्राम पुलिस ने कोर्ट में पेश चालान में अभिजीत के बयान लगाए हैं। अभिजीत ने यह भी कहा कि जब दिव्या ने उससे होटल में लड़की की डिमांड की तो मैंने दिल्ली से मेधा को बुलाया था। अभिजीत ने यह भी कहा कि दिव्या उस पर 30 लाख रुपए देने का दबाव बना रही थी। जिसकी वजह से मैंने उसे माथे पर सीधे गोली मार दी। दिव्या का 2 जनवरी को गुरुग्राम के होटल सिटी पॉइंट में गोली मारकर मर्डर किया गया था। इसके बाद उसकी लाश फतेहाबाद में भाखड़ा नहर से बरामद हुई थी।divya pahuja

2014 में मिले, दिव्या से अवैध संबंध थे

अभिजीत ने पुलिस को बताया- दिव्या से मेरी मुलाकात 2014 में हुई। वह गुरुग्राम में मेरे होटल सिटी पॉइंट के पास बस स्टैंड पर आती-जाती थी। मेरे और दिव्या के अवैध संबंध थे। अभिजीत ने कहा- 2016 में दिव्या संदीप गाडौली की हत्या के केस में जेल चली गई। वह जुलाई 2023 में जेल से बाहर आई। इसके बाद वह फिर मुझसे मिलने लगी।​​divya pahuja

दिव्या ने ब्लैकमेल करने की दी थी धमकी

मैं दिव्या को रुपए देता रहता था। मैंने अब तक दिव्या को साढ़े 3 लाख रुपए दिए थे। जिसमें 1.40 लाख रुपए का मोबाइल और बाकी कैश शामिल है। हालांकि अब वह और पैसों की डिमांड करने लगी थी। अभिजीत ने बताया कि दिव्या अब मुझसे बहुत ज्यादा पैसे मांगने लगी। दिव्या ने कहा कि 30 लाख रुपए दो वर्ना तेरी बातें तेरे घर और तेरे दोस्तों को बता दूंगी। मैंने दिव्या को ये रुपए देने से मना कर दिया।

दिव्या मेरे घर पहुंची, वहां दोस्त भी थे

1 जनवरी 2024 को दिव्या मेरे घर मकान नंबर J-21 साउथ एक्सटेंशन फेज वन दिल्ली में आई। जहां पर मैं और मेरे दोस्त बलराज निवासी सिरसा, रवि बंगा निवासी हिसार और प्रवेश निवासी रोहतक बैठे हुए थे। बाद में यहां मेघा निवासी नजफगढ़ भी आ गई। मेधा वहां से जल्दी चली गई।

दिव्या दबाव बनाने लगी तो मैं गुरुग्राम होटल लाया

यहां दिव्या ने मुझ पर रुपए देने का दबाव बनाया। मुझे लगा कि दोस्तों के सामने कहीं बेइज्जती न हो जाए। मैंने उसे गुरुग्राम होटल चलने को कहा। 2 जनवरी को सुबह 3.15 बजे मैं बलराज और दिव्या को लेकर मिनी कूपर गाड़ी में गुरुग्राम होटल के लिए निकले। 4.15 पर हम वहां पहुंचे। रूम नंबर 114 की चाबी नहीं मिली तो मैंने 111 नंबर कमरा खुलवाया। यह सीसीटीवी फुटेज गुरुग्राम के होटल की है। जिसमें आरोपी होटल मालिक अभिजीत, दिव्या और उसकी लाश को ठिकाने लगाने वाला बलराज नजर आ रहा है।

 सोने के बाद उठे तो दिव्या ने लड़की मंगाने को कहा

मैंने दोस्त बलराज को वहां से भेज दिया। इसके बाद हम सो गए। हम दोपहर में उठे और दिव्या ने कहा कि मैं लेस्बियन (समलैंगिक स्त्री) हूं। मुझे दूसरी लड़की चाहिए। इस बारे में मुझे पहले पता था। मैंने मेघा को करीब 3.30 बजे फोन किया। मैंने दिव्या के कहे मुताबिक मेघा को वहां आने को कहा।

माथे पर सामने से गोली मार दी

इसके बाद दिव्या मुझ पर रुपए देने का दबाव बनाने लगी। इसके बाद मैंने देसी पिस्टल से 2 जनवरी की शाम करीब 6 बजे दिव्या के माथे पर सामने से गोली मार दी। जिसके बाद दिव्या फर्श पर गिर गई और मैं कुछ देर तक बैड पर बैठा रहा। काफी देर तक होटल में घूमता रहा। इसके बाद दिव्या के कहने पर उसकी बुलाई मेघा वहां पहुंची।

भाखड़ा नहर से बरामद हुई थी लाश

कत्ल के बाद लाश को ठिकाने लगाने के लिए अभिजीत सिंह ने अपने साथी बलराज और रवि बंगा को BMW कार और कैश देकर डेडबॉडी उन्हें सौंप दी थी। दोनों आरोपियों ने दिव्या की लाश को पंजाब के पटियाला स्थित भाखड़ा नहर में फेंक दिया था। दिव्या की लाश 12 दिन बाद हरियाणा के फतेहाबाद जिले में टोहाना एरिया स्थित भाखड़ा नहर से बरामद हुई थी।

Around The Web

Trending News

Latest News

You May Also Like