1. Home
  2. Haryana News

BJP के निशाने पर JJP कोटे के चेयरमैन: सरकार ने मांगा इस्तीफा, CM सैनी ने नहीं दिया विस्तार

Bjp on jjp:

Bjp on jjp: हरियाणा में पुरानी सहयोगी जननायक जनता पार्टी के खिलाफ BJP अब खुलकर सामने आ गई है। जजपा से गठबंधन टूटने के एक महीने के बाद अब भाजपा सरकार ने जजपा कोटे के चेयरमैनों से इस्तीफा मांग लिया है। हालांकि करीब 5 चेयरमैनों का कार्यकाल पहले ही समाप्त हो चुका है, लेकिन 3 चेयरमैनों से जल्द इस्तीफा देने को कहा गया है।

सीएम ने नहीं किया था चेयरमैनों का विस्तार

गठबंधन टूटने के बाद सीएम नायब सैनी ने जजपा कोटे के सभी चेयरमैनों के सेवा विस्तार के लिए मना कर दिया है। इससे पहले भी जजपा कोटे से एडवोकेट जनरल ऑफिस (AGO) में तैनात कई डिप्टी एजी व एडिशनल एजी से इस्तीफा लिया जा चुका है। हरियाणा एजी ऑफिस के अनुसार जजपा कोटे से सूबे में अतिरिक्त महाधिवक्ता, उप महाधिवक्ता और सहायक महाविधक्ता सहित विभिन्न पदों पर 19 लॉ ऑफिसर्स तैनात थे।

Bjp on jjp:

विस्तार को लेकर लॉबिंग शुरू

मौजूदा समय में हरियाणा डेयरी विकास संघ के चेयरमैन रणधीर सिंह, हरियाणा वित्त विकास निगम के चेयरमैन पवन खरखौदा व हज कमेटी के चेयरमैन मोहसिन चौधरी का कार्यकाल बचा है, जिन पर अब इस्तीफे की तलवार लटक गई है। बताया गया कि मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से इन सभी चेयरमैनों को इस्तीफा देने के लिए मैसेज किए गए हैं। हालांकि कुछ चेयरमैन ऐसे हैं, जिन्होंने अपने विस्तार को लेकर लॉबिंग शुरू कर दी है।

कुछ पूर्व सीएम मनोहर लाल खट्‌टर और कुछ मौजूदा मुख्यमंत्री नायब सैनी के यहां अप्रोच लगा रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक जजपा कोटे के चेयरमैनों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि वह अपना इस्तीफा दे दें।

जजपा कोटे के 12 चेयरमैन थे

2019 में जजपा के सहयोग से हरियाणा में भाजपा ने सरकार बनाई थी। गठबंधन सरकार में जजपा को भी बोर्ड-निगमों की चेयरमैनी में हिस्सा मिला था। इसके तहत ही विभिन्न निगमों में करीब एक दर्जन चेयरमैन बनाए गए थे। इनमें से कई चेयरमैनों का कार्यकाल पहले ही खत्म हो चुका था, जिन्हें सेवा विस्तार की आस थी, लेकिन पिछले महीने जजपा से गठबंधन टूट गया। जिसके बाद किसी को भी सेवा विस्तार नहीं दिया गया। उल्टे अब सरकार ने जजपा कोटे से बचे हुए चेयरमैनी को समाप्त करने की कवायद शुरू की है। इसके तहत बचे हुए 3 चेयरमैनों से जल्द इस्तीफा देने को कहा गया है।

बीजेपी के निशाने पर जेजेपी

पूर्व उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला सहित जजपा के नेता अब भाजपा के निशाने पर आ गए हैं। CM नायब सिंह सैनी और पूर्व CM मनोहर लाल खट्टर ने दुष्यंत पर तल्खी दिखानी शुरू कर दी है। पिछले 2 दिनों में दोनों नेताओं की ओर से दुष्यंत के खिलाफ शिकायत आने पर कार्रवाई की बात कही गई है।

रेवाड़ी में पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि यदि किसी भी मामले में पूर्व डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला दोषी पाए गए तो उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा। जो आरोप किसी पर भी लगते हैं, केवल एक नाम नहीं, कभी भी आरोप कोई भी लगाता है तो हम पहले आरोप लगाने वाले की तसल्ली करते हैं। जिस पर आरोप लगाया उसकी भी जांच कराते हैं।

Around The Web

Trending News

Latest News

You May Also Like