1. Home
  2. Haryana News

पूर्व केंद्रीय मंत्री की वायरल ऑडियो रिकॉर्डिंग का पूरा सच: करीबियों ने दी सफाई, पढ़ें पूरी बातचीत

birendra singh

Audio recording: लोकसभा चुनाव से पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री की ऑडियो रिकॉर्डिंग वायरल होने से सियासत गर्मा गई है। रिकॉर्डिंग वायरल होने के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री के करीबियों ने सफाई दी है। हालांकि उनका दावा है कि ऑडियो में हो रही बातचीत पहले की है। उस वक्त वे कांग्रेस नहीं बल्कि भाजपा में थे।

ऑडियो रिकॉर्डिंग में कांट-छांट कर वायरल की गई

कांग्रेस में शामिल होने के बाद पूर्व मंत्री की किसी से ऐसी कोई बातचीत नहीं हुई। विरोधी जानबूझकर गुमराह कर रहे हैं। यही नहीं, उनका कहना है कि यह ऑडियो रिकॉर्डिंग भी कांट-छांट वायरल की गई है।

बता दें कि इस वायरल ऑडियो रिकॉर्डिंग में पूर्व मंत्री बीरेंद्र सिंह अपने बेटे बृजेंद्र के लिए हिसार सीट को सेफ बता रहे हैं। वे कह रहे हैं कि सोनीपत में हुड्‌डा (पूर्व CM भूपेंद्र हुड्‌डा) के 5 विधायक हैं। वहां से लोकसभा चुनाव लड़ने पर वे गड़बड़ी कर सकते हैं।

बीरेंद्र सिंह और भूपेंद्र हुड्‌डा आपस में रिश्तेदार हैं। हालांकि दोनों के बीच के सियासी रिश्ते ज्यादा अच्छे नहीं रहे हैं। हुड्‌डा के सीएम रहते बीरेंद्र सिंह वित्तमंत्री रह चुके हैं लेकिन उनके बीच अक्सर अनबन की खबरें आती रही हैं।

वायरल ऑडियो में क्या बातचीत हुई

​नेता- जितने ज्यादा साथी जोड़ोगे, उतने तगड़े रहोगे

कार्यकर्ता- पूरा जोर लगा देंगे

कार्यकर्ता- हिसार से ठीक रहेगा या सोनीपत से

नेता- हिसार। सोनीपत भी ठीक है, लेकिन वह हुड्‌डा का गढ़ है। यहां उसके 5 विधायक हैं। वह गड़बड़ी कर सकता है। हिसार में कुछ है नहीं। हिसार में सारा अपना ही सौदा है।

कार्यकर्ता- इसलिए तो हम कर रहे हैं

नेता- बाकी देखते हैं पार्टी क्या कहती है।

कार्यकर्ता- अपनी तरली सीट (विधासनभा सीट) पक्की हो गई

नेता- तू चिंता मत कर, कई लेंगे

BJP को छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए बृजेंद्र सिंह

पूर्व मंत्री के बेटे बृजेंद्र सिंह कुछ समय पहले ही भाजपा छोड़कर कांग्रेस में आ गए। वह 2019 में हिसार से भाजपा की टिकट पर सांसद बने थे। हालांकि कांग्रेस में अभी उनकी टिकट की घोषणा नहीं हुई। हालांकि कांग्रेसी सूत्रों के मुताबिक उन्हें हिसार या सोनीपत से लोकसभा टिकट दी जा सकती है।

हिसार लोकसभा सीट पर जारी महाभारत

पूर्व मंत्री बीरेंद्र सिंह बेटे के लिए हिसार लोकसभा सीट की मांग कर रहे हैं। इस बारे में वह खुले तौर पर भी कह चुके हैं कि हिसार सीट पर लड़ना उनकी प्राथमिकता है। इसकी बड़ी वजह हिसार में जींद की उचाना सीट है, जिसे पूर्व मंत्री का गढ़ माना जाता है।

अभी खुद बीजेपी में है बीरेंद्र सिंह

सबसे रोचक बात यह है कि बृजेंद्र सिंह भले ही कांग्रेस में जा चुके हैं लेकिन बीरेंद्र सिंह ने अभी भाजपा नहीं छोड़ी है। उनका कहना है कि वे कांग्रेस में जरूर शामिल होंगे लेकिन दिल्ली या हरियाणा में, इसके बारे में फैसला नहीं हुआ है।

Around The Web

Trending News

Latest News

You May Also Like