1. Home
  2. Haryana News

किसान नेता शुभकरण की मौत का मामला, जानें आज सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई में क्या हुआ ?

suprem court

Supreme court:किसान नेता शुभकरण की मौत के मामले में हरियाणा सरकार को बड़ा झटका लगा है। इस मामले में हाईकोर्ट के न्यायिक जांच पर स्टे देने से सुप्रीम कोर्ट ने इनकार कर दिया है।

कोर्ट ने विचाराधीन रखा मामला

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि जांच रिपोर्ट आने दो, बाद में रिपोर्ट पर विचार किया जाएगा। 22 वर्षीय किसान शुभकरण सिंह की पुलिस से झड़प में हुई मौत की जांच हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज से करवाने के हाईकोर्ट के ऑर्डर को सुप्रीम कोर्ट में हरियाणा सरकार ने चुनौती दी है। हरियाणा के एडवोकेट प्रदीप रापड़िया याचिकाकर्ता हरिंदर पाल सिंह ईशर की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए थे। जिसकी याचिका पर न्यायिक जांच के आदेश हुए थे।

जानें सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा

सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा सरकार के ऑर्डर पर रोक लगाने से साफ मना कर दिया। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि रिटायर्ड हाईकोर्ट के जज की अध्यक्षता में जो कमेटी बनी है उसमें हरियाणा और पंजाब दोनों के ADGP रैंक के अधिकारी भी शामिल हैं, जिससे लोगों का कानून व्यवस्था पर विश्वास मज़बूत होगा।Supreme court

सुप्रीम कोर्ट ने ये भी कहा कि अभी मामला हाईकोर्ट में लंबित है। जिसकी सुनवाई 10 अप्रैल को होनी है और रिपोर्ट भी कोर्ट में सब्मिट नहीं हुई है। रिपोर्ट आने के बाद ही मामले पर विचार किया जा सकता है। ऐसे में सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई 19 अप्रैल को निर्धारित की है।

किसान आंदोलन के 9वें दिन हुई थी मौत

किसान आंदोलन के 9वें दिन यानी 21 फरवरी को पंजाब-हरियाणा के बीच खनौरी बॉर्डर पर किसान शुभकरण की मौत हो गई थी। शुभकरण बठिंडा में रामपुरा इलाके के बल्लो गांव का रहने वाला था। उसके सिर के पिछले हिस्से में गोली लगने जैसा निशान मिला था। वह दो बहनों का इकलौता भाई था। मां के 13 साल पहले परिवार को छोड़कर मायके चले जाने के बाद दादी सुखजीत कौर ने तीनों भाई-बहनों की परवरिश की।

Around The Web

Trending News

Latest News

You May Also Like