1. Home
  2. Haryana News

कांग्रेस ज्वाइन करते ही चौधरी बीरेंद्र सिंह के तल्ख तेवर: कहा- हरियाणा में BJP को होगा नुकसान

 चौधरी बीरेंद्र सिंह

Birendra singh: पूर्व केंद्रीय मंत्री और हरियाणा के कद्दावर नेता चौधरी बीरेंद सिंह की आखिरकार घर वापसी हो चुकी है। 10 साल बाद बीरेंद्र सिंह वापिस कांग्रेस में शामिल हो गए। नई दिल्ली में अपनी पत्नी पूर्व विधायक प्रेमलत्ता और सैकड़ों समर्थकों के साथ कांग्रेस जॉइन करने वाले बीरेंद्र सिंह ने बीजेपी की स्ट्रेटजी पर खुलकर निशाना साधा।

अब बदल रही है हरियाणा की हवा

बीरेंद्र सिंह सिंह ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी से लेकर देश के कई अहम मुद्दों के साथ-साथ बीजेपी और जेजेपी के गठबंधन को लेकर भी तीखे प्रहार किए। एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में बीरेंद्र सिंह ने कहा कि मेरा 52 साल का राजनीतिक अनुभव यह बोलता है कि अब हरियाणा में राजनीति हवा बदल रही है। जितनी तेजी से बदलेगी उतना ही बीजेपी की लिए नुकसान है। लेकिन हवा में परिवर्तन हो रहा है इसलिए नेता बीजेपी से कांग्रेस में आ रहे हैं।

 चौधरी बीरेंद्र सिंह

खतरे में क्षेत्रीय पार्टियों का वर्चस्व

हरियाणा में आप यह मानकर चल सकते हो कि आने वाले समय में कांग्रेस ही मजबूत पार्टी होगी। क्षेत्रीय पार्टियों का वर्चस्व खतरे में है। खासकर हरियाणा में जेजेपी का। बीजेपी और जेजेपी हरियाणा में पार्टनर थी। शायद उनके नेताओं को बीजेपी में एंट्री ना मिल पाए, लेकिन उनके नेता कांग्रेस में जरूर ट्राई कर रहे हैं।

जेजेपी से गठबंधन रखोगे तो मैं बीजेपी में नहीं रहूंगा

उन्होंने कहा कि हमने 2 अक्टूबर को जींद में बहुत बड़ी रैली की थी। ये रैली बगैर किसी झंडे और डंडे के की थी। मैंने उसमें कहा था कि मैं पिछले 2 साल से प्रयास कर रहा हूं कि आप जेजेपी से अपने संबंध खत्म कर लें, क्योंकि ये पार्टी बीजेपी को स्थाई नुकसान पहुंचा रही है, लेकिन ये सरकार चलाने के चक्कर में इनके साथ लगे रहे। मैंने ये भी कहा कि जेजेपी वालों ने करप्शन की सभी सीमाएं लांघ दी। इसलिए मेहरबानी करो कि आप अपना संबंध इनसे खत्म कर दो, लेकिन मुझे कहते रहे कि अभी करेंगे। कल करेंगे, लेकिन आखिर में मुझे ही कहना पड़ा कि आप अगर जेजेपी से गठबंधन रखोगे तो मैं बीजेपी में नहीं रहूंगा।

बृजेंद्र सिंह तो पहले ही कांग्रेस जॉइन कर चुका

जब इनका गठबंधन टूटा तो मुझे फोन किया गया। मुझे बताया गया कि अब आपके मन मुताबिक फैसला ले लिया है, लेकिन मैंने भी साफ कर दिया कि बृजेंद्र सिंह तो पहले ही कांग्रेस जॉइन कर चुका। मैं पहले ही मन बना चुका था और मैंने कह दिया कि अब मैं कैसे वापस आ जाऊं यह तो आपको पहले ही सोचना चाहिए था। मैंने उस दिन ही कांग्रेस में वापसी करने का मन बना लिया था।

मैंने हरियाणा में जॉइन करने का मांगा था वक्त

बीरेंद्र ने कहा कि उनका मन हरियाणा में ही बड़ी रैली कर कांग्रेस में शामिल होने का था। मैंने कांग्रेस अध्यक्ष से 15-16 दिन पहले कहा था मुझे कोई निश्चित तारीख बता दें। जिस दिन मैं अपने साथियों के साथ कांग्रेस में शामिल हो संकू। उसका एक अलग ही मैसेज जाता। जिससे कांग्रेस को एकदम ताकत मिलती, लेकिन हमें जवाब मिला कि अब तो चुनाव की घोषणा हो चुकी। अब ये संभव नहीं है। आप दिल्ली में आकर पार्टी जॉइन करें। इसके बाद ही हम पार्टी जॉइन करने दिल्ली आए।

Around The Web

Trending News

Latest News

You May Also Like