1. Home
  2. Haryana News

वोट के लिए कुछ भी...करोड़ों की संपत्ति के मालिक नवीन जिंदल बने मजदूर, उठाई बोरियां, जानें मामला

नवीन जिंदल

Naveen jinda: चुनाव जीतने और जनता को लुभाने के लिए नेताजी को कड़ी मेहनत करनी पड़ती है, और इसके लिए करोड़ों की संपत्ति के मालिक नेताजी मजदूरी करने से भी नहीं चूकते है। कुरुक्षेत्र लोकसभा में कुछ ऐसा ही चल रहा है।

नवीन जिंदल बने पल्लेदार

देश के चुनिंदा इंडस्ट्रियलिस्ट, करीब 2 हजार करोड़ के मालिक और हरियाणा की कुरुक्षेत्र लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार नवीन जिंदल बुधवार को चुनाव प्रचार के दौरान पल्लेदार बने नजर आए। उन्होंने गेहूं की बोरी कंधे पर उठाकर ट्रक में लोड की। उनके इस काम को मौके पर मौजूद लोगों ने तालियां बजाकर सराहा। इसकी वीडियो भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। करीब 10 साल से राजनीति से दूर रहे नवीन जिंदल ने हाल ही में भाजपा जॉइन की है। उनकी माता सावित्री जिंदल देश की सबसे अमीर महिला हैं। उन्होंने भी कुछ दिन पहले कांग्रेस छोड़कर बीजेपी का दामन थामा है।

नवीन जिंदल

कंधे पर रख बोरी ट्रक में चढ़ाई

कुरुक्षेत्र अनाज मंडी से सामने आए वीडियो में नवीन जिंदल गेहूं की बोरी कंधे पर उठाकर ट्रक में लोड करते दिख रहे हैं। इस पर समर्थकों ने नवीन जिंदल जिंदाबाद और हमारा नेता कैसा हो के नारे लगाते हुए तालियां बजाईं। नवीन जिंदल गेहूं की बोरी ट्रक में रखने के बाद समर्थकों के जोश वर्धन के लिए हाथ जोड़कर अभिवादन करते नजर आए। वह यहां चुनाव प्रचार करने पहुंचे थे। उन्होंने भाजपा का पटका भी गले में डाला हुआ था।

कौन हैं नवीन जिंदल

नवीन जिंदल उद्योगपति ओम प्रकाश जिंदल के सबसे छोटे बेटे हैं। नवीन जिंदल हरियाणा की कुरुक्षेत्र लोकसभा सीट से 2 बार कांग्रेस के सांसद रह चुके हैं। वह पहली बार 2004 में कुरुक्षेत्र सीट से चुनाव जीते थे। 2009 में वह लगातार दूसरी बार कुरुक्षेत्र से चुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचे। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी ने उन्हें तीसरी बार कुरुक्षेत्र सीट से टिकट दिया लेकिन नरेंद्र मोदी की लहर के दौरान वह भाजपा के राजकुमार सैनी के सामने चुनाव हार गए।

इसके बाद जिंदल परिवार राजनीति से दूर हो गया। नवीन जिंदल की गिनती देश के चुनिंदा सबसे अमीर व्यक्तियों में होती हैं। इस समय वह जिंदल स्टील एंड पॉवर लिमिटेड के अध्यक्ष और ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी के चांसलर हैं। हाल ही में वह इंडियन स्टील एसोसिएशन के अध्यक्ष भी चुने गए हैं। देश के स्टील कारोबारी नवीन जिंदल की कुल संपत्ति करीब 2 हजार करोड़ रुपए है। उनकी कंपनी जिंदल स्टील का बाजार मूल्य 686 अरब रुपए से भी अधिक है। वह 24 मार्च को भाजपा में शामिल हुए थे।

नवीन जिंदल

देश की सबसे अमीर महिला के बेटे

नवीन जिंदल देश की सबसे अमीर महिला के बेटे हैं। उनकी माता सावित्री जिंदल 28 मार्च को भाजपा में शामिल हुईं थी। सावित्री जिंदल भी कांग्रेस सरकार में PWD मंत्री रह चुकी हैं। उनका हिसार सीट पर अच्छा प्रभाव माना जाता है। ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के अनुसार, जिंदल ग्रुप की अध्यक्ष सावित्री जिंदल की कुल संपत्ति 25 अरब डॉलर (2084 लाख करोड़ रुपए) तक पहुंच गई। पिछले 2 साल में उनकी दौलत में भारी इजाफा हुआ। सावित्री जिंदल फोर्ब्स की सूची में 2020 में 349वें नंबर पर थी। इसके बाद अगले ही साल 2021 में 234 और 2022 में 91वें नंबर पर पहुंच गई। कुछ सालों के अंदर ही सावित्री जिंदल के कारोबार में बड़ा इजाफा हुआ।

कुरुक्षेत्र सीट पर रहा है जिंदल परिवार का दबदबा

2009 से 2014 के बीच पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह की सरकार में हुए कोयला घोटाले को लेकर 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने न केवल UPA सरकार को घेरा था, बल्कि जिंदल को भी कटघरे में खड़ा किया था। इसके कारण ही नवीन जिंदल भाजपा प्रत्याशी राजकुमार सैनी से बड़े मार्जिन से चुनाव हार गए थे।

Around The Web

Trending News

Latest News

You May Also Like