1. Home
  2. Haryana News

टिकट बंटवारे के बाद हरियाणा कांग्रेस में घमासान, 3 लोकसभा सीटों पर बगावती सुर

haryana congress

haryana congress: टिकट बंटवारे के बाद हरियाणा कांग्रेस की कलह अब खुलकर सामने आने लगी है। 3 सीटों पर टिकट कटने को लेकर नेताओं ने मोर्चा खोल दिया है। ये नेता भले ही बाहरी तौर पर कांग्रेस की मदद की बात कर रहे हों लेकिन उनके बयान सीधे तौर पर बगावत का इशारा कर रहे हैं।

भिवानी-महेंद्रगढ़, फरीदाबाद और हिसार में बगावत

भिवानी-महेंद्रगढ़ में किरण चौधरी, हिसार में बीरेंद्र सिंह और फरीदाबाद में पूर्व मंत्री करण दलाल टिकट बंटवारे से नाराज हैं। जिसके बाद इन तीनों सीटों पर कांग्रेस के लिए चुनौती बढ़ गई है।

बागी नेताओं ने दिखाए तेवर

कांग्रेस ने भिवानी-महेंद्रगढ़ सीट से श्रुति चौधरी की टिकट काट दी। श्रुति भिवानी के तोशाम से विधायक किरण चौधरी की बेटी हैं। यह पूर्व सीएम बंसीलाल का परिवार है। टिकट कटने के बाद किरण चौधरी ने शक्ति प्रदर्शन किया। उन्होंने सीधे तौर पर तो विरोध नहीं किया लेकिन बिना नाम लिए कांग्रेस के उम्मीदवार बनाए राव दान सिंह को जमकर कोसा।

किरण चौधरी ने कहा- राव दान सिंह ने पिछले चुनावों में हमारी जितनी मदद की, उससे ज्यादा हम करेंगे। सियासी माहिर इसका अनुमान यह निकालते हैं कि राव दान सिंह पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्‌डा गुट के हैं। ऐसे में श्रुति के चुनाव में राव दान सिंह से ज्यादा मदद नहीं मिली। इसी वजह से किरण चौधरी इशारों में उन्हें अपना रुख बता रही हैं।

दूसरा बयान सीधे दान सिंह परिवार पर दिया। किरण चौधरी ने पूछा कि 'जो ईमानदार राजनीति का दावा करते हैं, वे इनडायरेक्ट रूप से लाखों-करोड़ों रुपए के घोटाले में लिप्त रहे हैं। आखिर कौन है वो भगोड़ा? उसके किससे संबंध हैं?'। सियासी माहिर किरण चौधरी के बिना नाम लिए दिए इस बयान को आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसाइटी घोटाले से जोड़ रहे हैं, जिसमें राव दान सिंह के बेटे अक्षत राव जांच के दायरे में आ चुके हैं। हालांकि, इस मामले में राव दान सिंह का कहना है कि अब केस निपट चुका है।

हरियाणा के नेताओं ने टिकट कटाई

भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल होने वाले सर छोटूराम के परिवार ने हिसार सीट पर दावा ठोका था। कांग्रेस ने वहां से उन्हें टिकट नहीं दी। उनकी जगह पूर्व मंत्री जयप्रकाश जेपी को उम्मीदवार बना दिया गया। इसके बाद पूर्व मंत्री बीरेंद्र सिंह और उनके बेटे बृजेंद्र सिंह का दर्द सामने आया। बीरेंद्र सिंह ने कहा कि कांग्रेस कहे या कैंडिडेट मदद मांगे तो मैं प्रचार करूंगा लेकिन कांग्रेस के लिए वोट मांगूंगा। बृजेंद्र सिंह ने कहा कि मुझे पूरी उम्मीद थी कि टिकट मिलेगी। मैं हिसार से सिटिंग MP था। किन्हीं कारणों से टिकट नहीं मिली। वह कारण दिल्ली के नहीं बल्कि प्रदेश की राजनीति की हैं। बृजेंद्र ने कहा कि हरियाणा की राजनीति में बहुत बड़ा बदलाव होने वाला है। समय के साथ सबको पता चल जाएगा।

दुनिया उतनी सीधी नहीं है, जितना मैं सोचता हूं। मैं पहले दुनिया को ब्लैक एंड व्हाइट समझता था।दुनिया ग्रे भी है, अब पता चला। जींद में टिकट कटने के बारे में बताते बृजेंद्र सिंह। उनके साथ मायूस नजर आ रहे पिता बीरेंद्र सिंह और मां प्रेम लता। जींद में टिकट कटने के बारे में बताते बृजेंद्र सिंह। उनके साथ मायूस नजर आ रहे पिता बीरेंद्र सिंह और मां प्रेम लता।

पूर्व CM भूपेंद्र हुड्‌डा के समधी ने राजनीति छोड़ने तक की धमकी दे डाली

हरियाणा के फरीदाबाद लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने पूर्व मंत्री महेंद्र प्रताप को टिकट दिया है। जिसके बाद टिकट मिलने की उम्मीद लगा लोकसभा क्षेत्र में मेहनत कर रहे पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा के समधी करण सिंह दलाल नाराज हो गए। अब करण सिंह दलाल ने सोमवार को बल्लभगढ़ के झाड़सैंतली गांव में पंचायत बुलाई है। यहां उनका बड़ा फैसला लेने की चर्चा है। दलाल ने यह भी कहा कि वे कांग्रेस में हैं और रहेंगे। यदि टिकट के लिए लोगों का दबाव पड़ा तो वे राजनीति करना छोड़ देंगे। उन्होंने कभी टिकट के लिए किसी राजनैतिक दल पर कोई दबाव नहीं बनाया। केवल उनकी छवि व राजनीतिक कद को देखकर पार्टियों ने उन्हें टिकट दिया।

Around The Web

Trending News

Latest News

You May Also Like